नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है! trendingjanata.in मैं दोस्तों 2 दिन बाद में मेरी बड़ी बहन की शादी है। जिसकी तैयारियों में हम कई दिनों से लगे हुए हैं। और वह भी LOCKDOWN 2021के समय लॉकडाउन के समय में यह सारी तैयारी करना हमारे लिए बहुत ही मुश्किल हो रहा है। दिल्ली में लॉकडाउन के समय सारी दुकानें बंद कर दी गई हैं। घर में सब जगह चहल-पहल है। बहन की शादी    की तैयारियों लगे हुए हैं। मुझे कई दिनों से ही सुबह जल्दी उठना पड़ रहा है क्योंकि घर पर इतने सारे काम करने होते हैं। आज मैं जल्दी सुबह उठ गया आज बहन की हल्दी की रसम है। मैं जल्दी तैयार हो गया हूं क्योंकि बहन को कुछ खरीदारी के लिए ले जाना था मैं और मेरी बहन तैयार होकर खरीदारी के लिए जाते हैं आज हम जाने वाले हैं चांदनी चौक जहां मेरी बहन ने लहंगा बुक किया हुआ जिसे हम लेने जाने वाले है। रास्ते में जाते हुए हम पूरी सावधानी बरतते हैं कोरोना का समय चल रहा है!

Lockdown wedding


इसलिए अपनी सुरक्षा अपने हाथों में ही है। वैसे तो बहन की शादी कुछ दिन पहले थी लेकिन लॉकडाउन बढ़ने पर हमने शादी की तारीख आगे कर दी थी।लेकिन लॉकडाउन दोबारा से बढ़ने की वजह से हमने लॉकडाउन में ही शादी करने का फैसला किया। हम लहंगे को लेकर आ जाते हैं रास्ते में हमें घर के लिए कुछ मिठाइयां लेनी है। क्योंकि बहुत सारे मेहमान आए हैं ।और कुछ रीती रस्म भी हैं जिनके लिए मिठाइयों की जरूरत है। तो हम चांदनी चौक की मशहूर मिठाई वाले मदन स्वीट्स के पास जा रहे हैं। सुबह से मेरे पापा का बहुत बार फोन आ चुका है क्योंकि हमें घर से निकले बहुत देर हो चुकी है और बहुत सारे काम भी हैं। इसलिए हमें अब जल्दी घर पर जाना चाहिए। घर पर जाने के बाद हम हल्दी की तैयारियां शुरू करते हैं । हमने ज्यादा लोगों को नहीं बुलाया जिस घर की कुछ औरतें और कुछ पड़ोस के लोगों को हल्दी के रसम में शामिल किया है। मैंने घर में कुछ सजावट की है हल्दी की रस्म के लिए फिर हम हल्दी की रस्म शुरू करते हैं। आए हुए सभी लोग बहन को हल्दी लगाते हैं। मैं और मेरे सारे भाई इस रस्म को करते हैं। उसके बाद हम थोड़ा गाना बजाना करते हैं। फिर बहन को तेल चढ़ाने की रस्म की जाती है । जिसमें बहन को हल्दी को छुड़ाकर तेल लगाया जाता है जिसमें सारी औरतें हिस्सा लेती हैं। हल्दी और तेल की रस्म खत्म होने के बाद हम सब खाना खाने चले जाते हैं। गांव से मेरे मामा जी आ रहे हैं तो हम उनके स्वागत के लिए कुछ तैयारी करने जा रही हैं गांव से आने के बाद मेरे मामा जी मेरे चाचा जी के यहां रुकेंगे क्योंकि हमें कुछ तैयारी करनी है उनके तिलक के लिए इसलिए वह अभी वहीं रुकेंगे तो हम सारी तैयारी कर चुकी हैं अब वक्त है मामा जी को बुलाने का मैं और मेरे दोस्त मामा जी का सामान लेकर आते हैं मम्मी जी और सारी औरतें गीत गाकर उनको घर बुलाती हैं फिर मेरे मामा जी के तिलक की रस्म होगी इसलिए सभी घरवाले ढोल के साथ उनको लेने जाते हैं। 

और फिर मेरी मां उनका घर के द्वार पर तिलक करती है । मेरे तीनों मामा का तिलक करने के बाद हम सब घर में जाकर चाय नाश्ता करते हैं। आज मुझे बहुत सारे काम है तुम्हें फिर से शादी की तैयारी और खरीदारी के लिए निकल जाता हूं इस कोरोना के माहौल लॉकडाउन में शादी का करना कितना मुश्किल है वह पता चल रहा है। कई दुकानें बंद है जिसकी वजह से खरीदारी में इतना समय लग रहा है। तो शाम हो चुकी है अब हम घर जा रहे हैं अपनी खरीदारी पूरी करके इसके बाद थोड़ा सा गाना बजाना होगा घर पर उसकी तैयारी करनी है। तो दोस्तों हम आ चुके हैं अपने घर और अब थोड़ा सा गाना बजाना हो जाए इसके बाद हम खाना खाकर कल की तैयारी करेंगे थोड़ी सी लेकिन उससे पहले मुझे फार्म हाउस में थोड़ा सा सामान लेकर जाना है। दोस्तों रात के 1 बज चुके हैं एक तो अब हम जा रहे हैं सोने।

नमस्कार दोस्तों आज मेरी बहन की मेहंदी और संगीत की रस्म है जिसके लिए मैं काफी सारी तैयारियां करनी है। सबसे पहले तो हम तैयार होते हैं उसके बाद में कुछ खाएंगे क्योंकि हमें पूरा दिन काम करना है तो पहले हम कुछ खा लेते हैं।कि हमें बाद में खाने का समय नहीं मिल पाएगा। अब हम जा रहे हैं घर के लिए कुछ जरूरी सामान लेने। रास्ते में जाते हुए हमें दिल्ली पुलिस वालों ने रोक लिया और पूछताछ करने लगे मैंने बताया कि मेरी बहन की शादी है जिसके लिए मैं कुछ जरूरी सामान लेने जा रहा हूं। इसके बाद उन्होंने मुझे जाने दिया जाहिर सी बात है करो ना का समय है। तो पुलिस वाले आपको रोकेंगे तो आप अपनी पूरी सावधानियां और सुरक्षा बनाए रखें क्योंकि यह बीमारी जल्दी खत्म होगी तभी लोग अपनी जिंदगी आगे जी पाएंगे। तो मैं आ चुका हूं। सामान लेकर अब जा रहे हैं हम डीजे का इंतजाम करने जो हमें संगीत की रसम के लिए चाहिए।

मां मेरी बहन तैयार हो रही है मेहंदी की रस्म के लिए बाकी सारी घर में लोग इतने खुश हैं। कि वह सुबह सुबह तैयार होकर बैठ जाते हैं। क्योंकि करो ना काल में बहुत कम ही लोग इस खुशी में शामिल हो पा रही हैं। मेहंदी वाली भी घर पर आ गई है ‌। डीजे की फिटिंग कर रहा हूं उस रात की संगीत की तैयारी के लिए घर में सारी औरतें अपने गीत गाकर मेहंदी की रसम को आगे बढ़ा रही है मेरी बहन के हाथों में मेहंदी लगी हुई है और उसको भूख भी लग रही है तो मैंने उसको अपने हाथों से खाना खिला दिया मेरी और मेरी बहन की शुरू से बहुत अच्छे हैं। यहां घर में रोज रोज कुछ नया बन रहा है क्योंकि मेरी भाभी आई हुई है और वह कुछ ना कुछ बना रही है तो करो ना खुशी को बहुत अच्छी तरीके से मना रहे हैं। मुझे कुछ मिठाइयों का ऑर्डर देने भी जाना है।  तो मैं जा रहा हूं ऑर्डर देने। मैं आऊंगा अपने पास की मिठाइयों की दुकान पर कुछ खाई में लेकर भी आया क्योंकि शाम के समय पूजा होगी इसलिए चलते है। संगीत की रस्म के लिए मैं घर आ गया है और जा रहे हैं हम संगीत की राशि के लिए तैयार होने। मेरी बहन की मेहंदी लग चुकी है और उसको मेहंदी लगाए हुए काफी देर हो गई है।

Lockdown 2021 का पहला दिन

तो वह अब जा रही है संगीत की तैयारियों के लिए संगीत में काफी लोगों ने डांस किया मेरी मम्मी ने एक प्यारी सी गाने जो मां और बेटी के लिए बना है। उस पर डांस किया जहां मैंने अपनी बहन के लिए एक सुंदर सा डांस किया जिसमें मेरे दोस्तों ने भी मेरे साथ डांस किया। फिर पूरी फैमिली ने मिलकर एक फैमिली डांस किया इसके बाद संगीत की रस्म होने के बाद हम सब खाना खाने चले गए। खाना खाने के बाद हम बैठकर अपनी पुरानी यादों को याद कर रहे थे। बचपन में कैसे थे कैसे करती थी क्या मेरी बहन मेरा कितना शादी दीजिए और बहुत सारी चीजें कि हम कैसे अपनी चीजें एक दूसरे के साथ बैठते थे वह बातें ही याद आ रही थी और एक भावुक माहौल बन गया था। इसके बाद मैं और मेरी बहन एक छोटी सी पार्टी करते हैं अपने भाइयों बहनों के साथ इसमें हम सब युवा जन डांस करते हैं। बाद हम सोने के लिए जाती हैं।


Lockdown wedding wedding

नमस्कार दोस्तों आज मेरी बड़ी बहन की शादी है। पता नहीं क्यों भावुक भी हो रहा हूं। तो दोस्तों हमें शादी के लिए बहुत सारी तैयारी करनी है! अभी जिसके लिए सबसे पहले हम तैयार हो जाते हैं और खाना खाकर जाते हैं। फार्म हाउस  पर सजावट देखने इसके बाद हम अपने लिए शादी के कपड़े लेने जाएंगे तो दोस्तों मैं इस समय लाजपत नगर आया हूं! अपनी शादी के कपड़े लेने। लेकिन यहां मुझे इतनी दिक्कत हुई कपड़े लेने में

नमस्कार दोस्तों आज मेरी बड़ी बहन की शादी है। पता नहीं क्यों भावुक भी हो रहा हूं। तो दोस्तों हमें शादी के लिए बहुत सारी तैयारी करनी है अभी जिसके लिए सबसे पहले हम तैयार हो जाते हैं और खाना खाकर जाते हैं। फार्म हाउस  पर सजावट देखने इसके बाद हम अपने लिए शादी के कपड़े लेने जाएंगे तो दोस्तों मैं इस समय लाजपत नगर आया हूं! अपनी शादी के कपड़े लेने। लेकिन यहां मुझे इतनी दिक्कत हुई कपड़े लेने में कि कि LOCKDOWN 2021 के समय लोग अपनी दुकानें ज्यादातर बंद ही रखे हुए हैं। क्योंकि करो ना इतना ज्यादा भयंकर होते जा रहा है जिसके कारण दिल्ली सरकार ने यह कदम उठाया है, तो दोस्तों आप सभी अपने घर में सुरक्षित रहें और कोई जरूरी काम हो तभी अपने घरों से बाहर निकले। मुझे अपने कपड़े खरीद के अपनी बहन के लिए एक तोहफा लेने जा रहा है जो मैं उसको आज देने वाला हूं और यह सोच कर कि वह अब हमारे घर से चली जाएगी मैं बहुत ज्यादा भावुक हो रहा हूं। मेरी बहन तो रात को रोने भी लगी थी क्योंकि एक ऐसे समय है, जहां सभी लोगों का भावुक होना जाहिर सी बात है। तो अब मैं जा रहा हूं बहन के लिए एक तोहफा लेने जो मुझे दिल्ली 6 में मिलेगा अब हम आ गई है! दिल्ली 6 से मैं अपनी बहन के लिए एक अच्छा सा तोहफा ले रहा हूं। हमने तोहफा ले लिया है और मैं अब जा रहा हूं घर पर कि कि पापा का बार-बार फोन आ रहा है क्योंकि इतनी सारे काम होने के बाद अभी काम खत्म नहीं हुए हैं। मैं जल्दी से घर जा रहा हूं उससे पहले मुझे घर के लिए कुछ सामान लेना है जो मैं लेकर घर पहुंच जाता हूं। मेरी बड़ी बहन मेरे चाचा के यहां तैयार हो रही है‌। क्योंकि वहीं उनका मेकअप किया जा रहा है। तो मैं फिर से जा रहा हूं फार्म हाउस यह देखने खाना बन गया है या नहीं सारी तैयारियां सजावट हो गई है घर से कुछ दूरी पर चलकर मैं फार्म हाउस आ गया हूं मेरे साथ मेरे चाचा का लड़का मेरा भाई भी है। 

मेरी हर तैयारी में मदद करता है। सारी सजावट देखने के बाद मेरा भाई और मैं घर आ जाते हैं मेरी बहन तैयार होकर घर आ गई है और मैं बहुत सुंदर लग रही थी। बहुत ही उदास बैठी हुई थी मेरे से पूछा कि क्या हुआ वह रोने लगी मैंने बोला अभी थोड़ी समय है यह रोने का तुम्हारा मेकअप खराब हो जाएगा। वह बहुत ही भावुक है। मेरी मम्मी भी बहन को देख कर रोने लगी घर में बहुत ही भावुक माहौल बन गया था सब यह सोच रहे थे कि अब यह दूसरे घर चली जाएगी। मैंने अपनी बड़ी बहन से बोला कि कोई बात नहीं जब आना हो तब बता देना मैं तुम्हें लेने आ जाऊंगा। वह थोड़ा शांत हो गई इसके बाद में तैयार होने चला गया मेरी मम्मी और मेरी पापा दोनों ही शादी के लिए तैयार हैं करोना का समय चल रहा है इसलिए शादी में सिर्फ 50 लोग ही आ सकते हैं इसलिए मैंने अपने किसी भी दोस्त को नहीं बुलाया लेकिन मैं अपनी शादी में सबको बुलाऊंगा। दिल्ली सरकार ने यह निर्देश दिया था कि शादी में 50 लोगों से अधिक नहीं होनी चाहिए इसलिए हमने भी सिर्फ 50 लोग ही शादी में बुलाई हैं। हम तैयार हो चुके हैं और अब मैं जा रहा हूं फार्म हाउस बाकी की तैयारियां देखने यह मेरी मम्मी और मेरी बहन बाद में आएंगे तो चलिए दोस्तों आगे की तैयारियां करते हैं और मंडप लगाने का काम करते हैं। मेरी बहन ने भी अपनी सहेलियों में से किसी को भी न्योता नहीं दिया है क्योंकि घर में रिश्तेदार बहुत आ चुके थे इसलिए जब हमने पहले शादी की तारीख निकलवाई थी तब हमने सबको न्योता दे दिया था! लेकिन उसके बाद LOCKDOWN 2021 लगने के कारण हमें कई लोगों को मना भी करना पड़ा। जिसका हमें बहुत अफसोस है सारी तैयारियां करने के बाद भी LOCKDOWN 2021 लगने के कारण कई चीजें रह गई मैंने एक व्यक्ति को फार्म हाउस के गेट पर खड़ा कर दिया कि वह बिना किसी को मास्क पहने अंदर नहीं आने दे और आने से पहले के हाथ सैनिटाइज कराएगा इसलिए करना पड़ रहा है कि यहां सब की सुरक्षा बनी रहे। तो बरात आने का समय हो गया है। 

Lockdown wedding


बरात के आने के बाद कुछ गाना बजाना और दूल्हे का तिलक भी किया गया जिसके बाद कई रीति की गई। वरमाला का समय होने के बाद मेरी बहन को बुलाया गया और वरमाला होने लगी मेरा यह समय इतना भावुक था छोटी छोटी बातों में मैं भावुक होता जा रहा था ‌। वरमाला होने के बाद सभी रिश्तेदारों ने दूल्हा दुल्हन के साथ फोटो ले उसके बाद मैंने अपनी बहन को एक छोटा सा तोहफा दिया जो मैं सुबह उसके लिए खास लेकर आया था। और तोहफा देने के बाद मैंने अपनी बहन के लिए एक गाने पर नाचा भी मेरी बहन इतनी भावुक थी कि वह रोने लगी। थोड़ी से गाने बजाने के बाद अब खाना खाने का समय आ गया है तो सब खाना खाने जाते हैं। मैं अपनी भाभी के साथ और मेरी सबसे बड़ी बहन के साथ बैठा हूं। और खाना खा रहा हूं। मैं फेरौ की तैयारी में लग जाता हूं।

मैं और मेरी सारे भाई मिलकर मेरी बहन को मंडप तक लेकर आते हैं उसके बाद शादी रशम शुरू होती है आज मुझे पूरी रात जागना है। इसलिए मैं खाना खाने के बाद एक कप कॉफी पी लेता हूं। मुझे नींद ना आए मेरी मम्मी बहुत ही भावुक होकर मुझसे कहती हैं कि अब तू किस से लड़ा करेगा। मैं उस समय बहुत भावुक हो जाता कि कि LOCKDOWN 2021के समय लोग अपनी दुकानें ज्यादातर बंद ही रखे हुए हैं। क्योंकि करो ना इतना ज्यादा भयंकर होते जा रहा है, जिसके कारण दिल्ली सरकार ने यह कदम उठाया है तो दोस्तों आप सभी अपने घर में सुरक्षित रहें और कोई जरूरी काम हो तभी अपने घरों से बाहर निकले। मुझे अपने कपड़े खरीद के अपनी बहन के लिए एक तोहफा लेने जा रहा है जो मैं उसको आज देने वाला हूं और यह सोच कर कि वह अब हमारे घर से चली जाएगी मैं बहुत ज्यादा भावुक हो रहा हूं। मेरी बहन तो रात को रोने भी लगी थी क्योंकि एक ऐसे समय है जहां सभी लोगों का भावुक होना जाहिर सी बात है। तो अब मैं जा रहा हूं बहन के लिए एक तोहफा लेने जो मुझे दिल्ली 6 में मिलेगा अब हम आ गई है दिल्ली 6 से मैं अपनी बहन के लिए एक अच्छा सा तोहफा ले रहा हूं। हमने तोहफा ले लिया है और मैं अब जा रहा हूं घर पर कि कि पापा का बार-बार फोन आ रहा है क्योंकि इतनी सारे काम होने के बाद अभी काम खत्म नहीं हुए हैं। मैं जल्दी से घर जा रहा हूं उससे पहले मुझे घर के लिए कुछ सामान लेना है जो मैं लेकर घर पहुंच जाता हूं। मेरी बड़ी बहन मेरे चाचा के यहां तैयार हो रही है‌। क्योंकि वहीं उनका मेकअप किया जा रहा है। 

तो मैं फिर से जा रहा हूं फार्म हाउस यह देखने खाना बन गया है या नहीं सारी तैयारियां सजावट हो गई है घर से कुछ दूरी पर चलकर मैं फार्म हाउस आ गया हूं मेरे साथ मेरे चाचा का लड़का मेरा भाई भी है। मेरी हर तैयारी में मदद करता है। सारी सजावट देखने के बाद मेरा भाई और मैं घर आ जाते हैं मेरी बहन तैयार होकर घर आ गई है और मैं बहुत सुंदर लग रही थी। बहुत ही उदास बैठी हुई थी मेरे से पूछा कि क्या हुआ वह रोने लगी मैंने बोला अभी थोड़ी समय है यह रोने का तुम्हारा मेकअप खराब हो जाएगा। वह बहुत ही भावुक है। मेरी मम्मी भी बहन को देख कर रोने लगी घर में बहुत ही भावुक माहौल बन गया था सब यह सोच रहे थे कि अब यह दूसरे घर चली जाएगी। मैंने अपनी बड़ी बहन से बोला कि कोई बात नहीं जब आना हो तब बता देना मैं तुम्हें लेने आ जाऊंगा। वह थोड़ा शांत हो गई इसके बाद में तैयार होने चला गया मेरी मम्मी और मेरी पापा दोनों ही शादी के लिए तैयार हैं करोना का समय चल रहा है इसलिए शादी में सिर्फ 50 लोग ही आ सकते हैं इसलिए मैंने अपने किसी भी दोस्त को नहीं बुलाया लेकिन मैं अपनी शादी में सबको बुलाऊंगा। 

Lockdown wedding


दिल्ली सरकार ने यह निर्देश दिया था कि शादी में 50 लोगों से अधिक नहीं होनी चाहिए इसलिए हमने भी सिर्फ 50 लोग ही शादी में बुलाई हैं। हम तैयार हो चुके हैं और अब मैं जा रहा हूं फार्म हाउस बाकी की तैयारियां देखने यह मेरी मम्मी और मेरी बहन बाद में आएंगे तो चलिए दोस्तों आगे की तैयारियां करते हैं और मंडप लगाने का काम करते हैं। मेरी बहन ने भी अपनी सहेलियों में से किसी को भी न्योता नहीं दिया है क्योंकि घर में रिश्तेदार बहुत आ चुके थे इसलिए जब हमने पहले शादी की तारीख निकलवाई थी तब हमने सबको न्योता दे दिया था लेकिन उसके बाद LOCKDOWN 2021लगने के कारण हमें कई लोगों को मना भी करना पड़ा। जिसका हमें बहुत अफसोस है सारी तैयारियां करने के बाद भी LOCKDOWN 2021लगने के कारण कई चीजें रह गई मैंने एक व्यक्ति को फार्म हाउस के गेट पर खड़ा कर दिया कि वह बिना किसी को मास्क पहने अंदर नहीं आने दे और आने से पहले के हाथ सैनिटाइज कराएगा इसलिए करना पड़ रहा है कि यहां सब की सुरक्षा बनी रहे। तो बरात आने का समय हो गया है। बरात के आने के बाद कुछ गाना बजाना और दूल्हे का तिलक भी किया गया जिसके बाद कई रीति की गई।

वरमाला का समय होने के बाद मेरी बहन को बुलाया गया और वरमाला होने लगी मेरा यह समय इतना भावुक था छोटी छोटी बातों में मैं भावुक होता जा रहा था ‌। वरमाला होने के बाद सभी रिश्तेदारों ने दूल्हा दुल्हन के साथ फोटो ले उसके बाद मैंने अपनी बहन को एक छोटा सा तोहफा दिया जो मैं सुबह उसके लिए खास लेकर आया था। और तोहफा देने के बाद मैंने अपनी बहन के लिए एक गाने पर नाचा भी मेरी बहन इतनी भावुक थी कि वह रोने लगी। थोड़ी से गाने बजाने के बाद अब खाना खाने का समय आ गया है तो सब खाना खाने जाते हैं। मैं अपनी भाभी के साथ और मेरी सबसे बड़ी बहन के साथ बैठा हूं। और खाना खा रहा हूं। मैं फेरौ की तैयारी में लग जाता हूं। मैं और मेरी सारे भाई मिलकर मेरी बहन को मंडप तक लेकर आते हैं उसके बाद शादी रशम शुरू होती है आज मुझे पूरी रात जागना है। इसलिए मैं खाना खाने के बाद एक कप कॉफी पी लेता हूं। मुझे नींद ना आए मेरी मम्मी बहुत ही भावुक होकर मुझसे कहती हैं कि अब तू किस से लड़ा करेगा। मैं उस समय बहुत भावुक हो जाता हूं। क्योंकि मेरी बड़ी बहन और मैं बहुत ही अच्छे दोस्त है। और हम सारे काम साथ ही करते थे मेरी बड़ी बहन मुझसे बहुत प्यार करती है। और मुझे जो भी चाहिए होती थी वह मुझे तुरंत लाकर देती थी जब हम छोटे थे तो मेरी बड़ी बहन ही मेरा ध्यान रखती थी मुझे कभी रोने नहीं देती थी। मेरी हर जरूरत को पूरा करती थी। आज मुझे यह सब बातें याद आ रही है। बहन के फेरे होने के बाद शादी की आगे की रसम शुरू होती है जिसमें मेरे मामा और मेरी मम्मी की जरूरत होती है।

फिर मेरे पापा और मेरी मम्मी मिलकर बहन का कन्यादान करते हैं। बहन के पति बहुत ही सुलझे हुए इंसान हैं। वह भी इस समय बहुत ही भावुक है। शादी हो जाने के बाद विदाई का समय आता है सुबह के 5:00 बजे विदाई की तैयारी शुरू हो जाती हैं मैं अपनी बहन का सारा सामान गाड़ी में रख देता हूं मेरे भाई बहुत ही भावुक है और रो रही है। मम्मी से गले मिलकर पापा से भी लेकिन मेरी हिम्मत नहीं हो रही है मिलने की क्योंकि मैं उसके सामने इसलिए से नहीं मिल पा रहा हूं। लेकिन मेरी बहन मेरे पास आती है ओ मेरे गले लग कर रोने लगती है जिसके बाद मुझे भी रोना आ जाता है हम दोनों भाई बहनों में बहुत ज्यादा प्यार है। इसलिए मैं ज्यादा उदास हूं क्योंकि अब यहां से वह चली जाएगी। कुछ देर बाद विदाई की रसम शुरू हुई इस करुणा के दौर में हमने विदाई होने पर बहुत सारी सावधानी बरती सभी को शादी के दौरान मास्क अवश्य लगाने की और सभी को शादी में सोशल डिस्टेंसिंग काफी ध्यान रखने के लिए कहा दिल्ली में किस दिन ब दिन बढ़ते जा रहे हैं। जिसकी वजह से कई शादियां तय तारीख पर नहीं हो पा रही है। हमने भी शादी की तारीख आगे बढ़ाई लेकिन LOCKDOWN 2021दुबारा बढ़ने की वजह से हमें लोग डाउन में ही शादी को करना पड़ा। लॉक डाउन की वजह से शादी में काफी सारी दिक्कतें भी आई लेकिन आखिर में शादी सही तरीके से हो गई।

Post a Comment

If you have any doubt please let me know.🙏

और नया पुराने